एनीमिया क्या होता है ? इसके कारण-लक्षण एवं उपचार क्या है ?

By | August 8, 2018

एनीमिया एक खून से संबंधी बीमारी है जो कि शरीर में iron(लोह) तत्व की कमी के कारण होती है या हम कह सकते है कि खून में iron की कमी एनीमिया/Anemia को जन्म देती है | अक्सर शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं ( हीमोग्लोबिन) तत्व की कमी होने को ही हम खून की कमी कह देते है | यह साफ़ है कि शरीर में खून की कमी ही एनीमिया रोग/(Anemia in Hindi) को जन्म देती है | आज के भागदौड़ से भरे जीवन में एनीमिया रोग का होना सामान्य सी बात हो गयी है | लेकिन लम्बे समय तक इस रोग का शरीर में बने रहना और भी बहुत सी अन्य बीमारियों को जन्म दे सकता है |

Anemia in Hindi

एनीमिया होने पर रोगी में इस प्रकार के लक्षण दिखाई देते है :-

Symptoms of Anemia in Hindi :-

खून की कमी होने पर रोगी में दिखाई देने वाले लक्षण : –

  • शरीर में थकान महसूस होना |
  • उठते और बैठते समय चक्कर आना |
  • नाखून पीले पड़ जाना |
  • हाथ की हथेली व पैरों के तलवे ठन्डे महसूस होना |
  • साँस लेने में तकलीफ
  • चक्कर आना |
  • दिल की धड़कन असामान्य प्रतीत होना |
  • बार-बार सिर दर्द की शिकायत होना |

एनीमिया होने के मुख्य कारण – Anemia Causes :-

  • शरीर में आयरन , फोलिक एसिड और विटामिन बी-12 की कमी होने पर यह रोग हो सकता है |
  • कैल्शियम की मात्रा अधिक लेने से एनीमिया हो सकता है |
  • पेट में इन्फेक्शन के कारण भी यह रोग हो सकता है |
  • लम्बे समय तक एसिडिटी के खाली पेट लिए जाने वाले कैप्सूल – omeprazole, pantaprazole और Rebeprazole को लेने से भी शरीर में खून की कमी आ सकती है |
  • किसी बाहरी चोट आदि के कारण शरीर से अधिक खून बह जाने से भी एनीमिया हो सकता है |
  • लम्बे समय तक depression भी एक अतिरिक्त कारण बन सकता है एनीमिया होने का |
  • गर्भवती महिलाओं को एनीमिया हो सकता है |
  • खाने में हरी सब्जियाँ और दूध आदि ने लेने से भी एनीमिया रोग हो सकता है |
  • अधिक शराब पीना या चैन स्मोकिंग भी एनीमिया का कारण बन सकते है |

Anemia in Hindi

एनीमिया का उपचार – Treatments of  Anemia : –

एनीमिया का उपचार करने से पहले यह जानना जरुरी है कि किस कारण से रोगी को एनीमिया रोग(Anemia in Hindi) हुआ है पहले एनीमिया होने के सही कारण का पता लगाना चाहिए उसके बाद उपचार करना चाहिए :-

शरीर में आयरन की कमी से होने वाला एनीमिया : – आयरन की कमी होने के कारण होने वाले एनीमिया को आप शरीर में आयरन(लोह) तत्व की पूर्ति करके ठीक कर सकते है | अपने आहार शैली में थोड़ा परिवर्तन करें और आयरन से भरपूर भोजन का प्रयोग करें जैसे : सेब, पालक, दूध, चुकंदर व शहद इनके अतिरिक्त लोहे के बर्तन में खाना बनाये | विटामिन -C भी अवश्य ले जैसे :- निम्बू, टमाटर और आवला आदि | शरीर में आयरन की कमी को पूरा करने के लिए बाजार में उपलब्ध आयरन युक्त tablets या सिरप का प्रयोग भी आप कर सकते है

विटामिन बी -12 और फोलिक एसिड की कमी के कारण एनीमिया : –  जब किसी व्यक्ति के शरीर में विटामिन बी-12 की कमी होती है तो इसके साथ-साथ ही फोलिक एसिड भी कम होने लगता है | और ये दोनों ही एनीमिया होने के कारण बनते है | विटामिन बी-12 की प्राप्ति हमें सिर्फ दूध और मांसाहार द्वारा ही होती है | इसलिए अधिकतर लोगों में विटामिन बी-12 की कमी को देखा जा सकता है | शरीर से विटामिन बी-12 की कमी को पूरा करने के लिए आप अधिक से अधिक दूध का सेवन करें और साथ ही विटामिन बी-12 और फोलिक एसिड युक्त सिरप या tablets का भी प्रयोग कर सकते है | Vitcofol इंजेक्शन के माध्यम से भी आप (Vitamin-B12)विटामिन बी-12 और फोलिक एसिड/Folic Acid की कमी को पूरा कर सकते है | लेकिन चिकित्सक से उचित परामर्श लेकर ही आप इस इंजेक्शन का प्रयोग करें |

अप्लास्टिक एनीमिया :- इस प्रकार के एनीमिया/Anemia : किसी इन्फेक्शन, किसी वायरल disease या कीमोथेरेपी जैसी खतरनाक दवाओं के सेवन से होता है | इस प्रकार के एनीमिया में अच्छे चिकित्सक से परमर्श अवश्य लेना चाहिए |

रक्त स्त्राव होने पर एनीमिया :- किसी दुर्घटना के कारण चोट लगने से रक्त स्त्राव हो जाना या फिर महिलाओं में मासिक के समय अधिक मात्रा में रक्त का स्त्राव होना भी एनीमिया का कारण बन सकता है | इस अवस्था में रोगी को अधिक से अधिक रक्त का निर्माण करने वाले भोज्य पदार्थ जैसे : – अनार, चकुंदर, गाजर, शहद का प्रयोग अधिक करने के साथ-साथ चिकित्सक से परामर्श अवश्य लेना चाहिए(Anemia in Hindi) |

एनीमिया रोग में प्रभावी घरेलु उपचार : –

Home Remedies to Cure Anemia :-

  • चुकंदर : – चुकंदर को एनीमिया होने पर बहुत ही प्रभावी औषधि माना गया है | इसमें आयरन काफी मात्रा में होता है | इसलिए हमें एनीमिया होने पर रोगी को थोड़ी-थोड़ी मात्रा में चुकंदर अवश्य खिलाना चाहिए |
  • शहद : – शहद खाने से भी खून की कमी बहुत जल्द पूरी होती है | शहद में भी आयरन की मात्रा काफी अधिक होती है | एक गिलास पानी में थोड़ा निम्बू और 2 चम्मच शहद मिलाकर पीना चाहिए |
  • टमाटर :- आपके द्वारा ग्रहण किये गये आयरन को अवशोषित करने में विटामिन- C प्रमुख होता है | इसलिए प्रतिदिन टमाटर का सेवन सलाद के रूप में करना चाहिए |
  • अनार और सेब :- विटामिन C और आयरन, दोनों से युक्त होने के कारण ये दोनों  एनीमिया में बहुत ही प्रभावी औषधि के रूप में कार्य करते है |
  • खजूर : – एनीमिया में खजूर भी आयरन से युक्त होने के कारण प्रभावी माना गया है |
  • पालक :- पालक में आयरन, फाइबर, विटमिन -A और विटामिन -E होते है | शरीर को स्वस्थ रखने व खून का निर्माण करने में इसका सेवन बहुत लाभप्रद है |

Related Articles :-

यद्यपि एनीमिया/Anemia एक खतरनाक बीमारी नहीं है है लेकिन समय रहते इसका उपचार न किये जाने पर यह भयंकर बिमारियों को जन्म दे सकती है | इसलिए एनीमिया(Anemia in Hindi) के लक्षण प्रतीत होने पर तुरंत इसका उपचार किया जाना चाहिए | याद रखे : अपने स्वास्थ्य के प्रति सतर्क रहकर ही आप एक अच्छा और स्वस्थ जीवन जी सकते है |

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *