सुबह के नाश्ते(Breakfast) में क्या-क्या खाना चाहिए ? और क्या-क्या नहीं खाना चाहिए ?

By | September 6, 2018

Medical Science के अनुसार सुबह का नाश्ता सभी के लिए बहुत महत्व रखता है | सुबह के नाश्ते में हमारे द्वारा लिया गया भोजन पूर्णरूप से शरीर को लगता है | इससे शरीर को आवश्यक energy मिलने के साथ-साथ जरुरी विटामिन्स भी अधिक मात्रा में अवशोषित होते है अपेक्षित दिन और रात के भोजन के | इसलिए सुबह के नाश्ते में हमारे द्वारा ऐसा भोजन किया जाना चाहिए जिसमें हमें भरपूर मात्रा में विटामिन्स, प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट मिले | तो आइये जानते है हमें सुबह के नाश्ते(Healthy Breakfast in Hindi) में क्या-क्या सेवन करना चाहिए और किन-किन चीजों का त्याग कर देना चाहिए |

सुबह के नाश्ते में क्या न खाएं : –

breakfast should avoid

पराठें : –

अगर आप सुबह के नाश्ते में पराठों का सेवन नियमित रूप से करते है तो अपने आने वाले कल के स्वास्थ्य के लिए बहुत बड़ा खिलवाड़ कर रहे है | क्या आप जानते है पराठों में बहुत अधिक मात्रा में वसा होती है | जिससे आप मोटे और मोटे होते चले जायेगें | आपका वजन निरंतर बढ़ने लगेगा, साथ ही आपके लीवर को इसे digest करने में भी परेशानी होती है | इसके बाद आप जो दिन में भी भोजन करते है लीवर द्वारा  उसे पचाने में भी दिक्कत होने लगती है(Healthy Breakfast in Hindi) |

ब्रेड का सेवन न करें : –

अगर आप नाश्ते में नियमित रूप से ब्रेड का सेवन कर रहे है तो आज से ही सावधान हो जाइये | ब्रेड से आपको सिर्फ और सिर्फ कार्बोहाईड्रेट तो प्राप्त होता है लेकिन प्रोटीन और विटामिन्स की पूर्ति नहीं हो पाती है | ब्रेड को मैदा द्वारा बनाया जाता है जो पेट द्वारा ठीक से digest नहीं हो पाता | मैदा का अधिक सेवन करने वाले लोग निरंतर कब्ज से परेशान रहते है | आजकल कुछ लोगों ने brown bread का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया है | brown ब्रेड आटे द्वारा बनी होती है इसलिए साधारण ब्रेड की जगह प्रयोग की जा सकती है | लेकिन नियमित रूप से आप brown bread का भी सेवन न ही करें तो अच्छा है |

Burgur – Maggi – other जंक फ़ूड का सेवन न करें : –

सबुह-सुबह नाश्ते के रूप में बर्गर व जंक फ़ूड आदि का सेवन करना पश्चिमी देशों की परम्परा है | और पश्चिमी देशों की life style अपनाने में भारतीय लोगों को कुछ ज्यादा ही आनंद आने लगा है तभी तो आज के समय अधिकतर भारतीय डॉक्टर्स के अधिक चक्कर लगाते दिखाई देते है | सुबह के नाश्ते में जंक फ़ूड का सेवन करना सबसे अधिक हानिकारक माना गया है | इससे आपके लीवर की कार्यक्षमता में कमी आती है और साथ ही आप फैटी(मोटे) होने लगते है(Healthy Breakfast in Hindi) |

फ्रीज में रखा खाना न खाए : –

कुछ लोग सुबह समय के अभाव में रात को ही सुबह के लिए कुछ बनाकर रख लेते है और सुबह होने पर उसे गरम करके नाश्ते के रूप में खा लेते है | आयुर्वेद में भी कहा गया है कि रात का बासी भोजन कभी नहीं करना चाहिए | रात का बासी भोजन खाने से घर में दरिद्रता और आलस्य आता है साथ ही स्वास्थ्य के लिए भी इसे हानिकारक माना गया है(Healthy Breakfast in Hindi) |

नाश्ते में tea और बिस्कुट आदि न खाए : –

कुछ लोगों की आदत होती है नाश्ते में चाय के साथ कुछ हल्का खाने की जैसे बिस्कुट -नमकीन – ब्रेड या रोटी आदि खाने की | सुबह के समय चाय का सेवन सिर्फ और सिर्फ आपके आलस्य को कुछ समय के लिए दूर करने के काम आता है | इसके अतिरिक्त चाय का सेवन पूर्णरूप से हानिकारक है | इसलिए आज से ही चाय का सेवन सुबह के समय बंद कर दीजिये | दिन में एक बार चाय का सेवन करना आपके लिए थोडा लाभकारी सिद्ध हो सकता है लेकिन सुबह नाश्ते के रूप में तो बिल्कुल नहीं |

Healthy Breakfast in Hindi

healthy breakfast in hindi

सुबह के नाश्ते में क्या खाना चाहिए : –

अंकुरित दालें व अंकुरित चनों का सेवन करें : –

सुबह के नाश्ते में हर व्यक्ति को सुपाच्य भोजन के साथ-साथ प्रोटीन और विटामिन्स की आवश्यकता होती है | सुबह के नाश्ते में मौठ, चने या अंकुरित दालें प्रयोग करें | हल्के स्वाद के लिए आप इनमें टमाटर और प्याज आदि को डाल डालते है | थोडा नमक का प्रयोग भी कर सकते है | लेकिन ध्यान रखे : इन्हें fry या बॉईल करके न खाएं | अगर आप fry करके ही खाना पसंद करते है तो शुद्ध देसी गाय के घी का प्रयोग करे वो भी बहुत ही थोड़ी मात्रा में |

सेब का सेवन करें : –

सुबह-सुबह खाली पेट सेब का सेवन करना सबसे अधिक गुणकारी माना गया है | यह कहावत भी है कि Eat One Apple Everyday keeps you away from Doctors. सेब का सेवन करने से पहले इसे अच्छे से धो लेना चाहिए | फ्रीज़ में रखे गये सेब को तुरंत फ्रीज से निकालकर न खाएं 1 से 2 घंटे के लिए इसे फ्रीज़ से बाहर रखे फिर धोकर इसका सेवन करना चाहिए | एक स्वस्थ व्यक्ति के लिए सुबह नाश्ते के रूप में सेब खाना सबसे उत्तम आहार माना गया है |

Oats का दलिया : –

Oats(जई) में बहुत आधिक मात्रा में फाइबर की मात्रा होती है | जो लोग थोड़े मोटे है और अपना weight थोडा कम करना चाहते है उन्हें नाश्ते के रूप में Oats का सेवन करना चाहिए | वैसे एक स्वस्थ व्यक्ति जो मोटा नहीं है वह भी नियमित रूप से Oats का सेवन कर सकता है | यह पूर्णरूप से सुरक्षित आहार है |

दही का प्रयोग : –

दही का प्रयोग सुबह-सुबह करना उपयुक्त माना गया है | लेकिन जिन लोगों को थोड़ी एसिडिटी की समस्या रहती है उनको दही में नमक के स्थान पर मीठे का प्रयोग करना चाहिए | और खट्टे दही को नहीं खाना चाहिए | दही के साथ आप रोटी आदि का प्रयोग कर सकते है | उत्तर भारत में अक्सर नाश्ते में दही-रोटी खाने की परम्परा है | लेकिन ध्यान रखे साथ में किसी प्रकार के अचार आदि का प्रयोग बिल्कुल न करें |

रोटी-सब्जी का प्रयोग : –

रोटी-सब्जी का प्रयोग भी सुबह के नाश्ते में किया जा सकता है लेकिन ध्यान रखे सब्जी कम तैलीय और कम मसालेंदार होनी चाहिए |

Healthy Breakfast in Hindi

दूध या छाछ का प्रयोग : –

सुबह के नाश्ते में दूध का सेवन भी किया जा सकता है | लेकिन ध्यान दे, दूध के सेवन के साथ नमक युक्त भोजन न करें | इसलिए दूध को अकेले ही पीये इसके साथ में कुछ न खाए | दूध में थोडा मीठा अवश्य प्रयोग करें | छाछ का प्रयोग भी आप सुबह के नाश्ते में कर सकते है | यह बहुत ही हल्का और सुपाच्य पेय पदार्थ है |

गेंहू का दलियां : –

गेंहू द्वारा बने हुए दलियें में फाइबर और कार्बोहाईड्रेट व प्रोटीन प्रचुर मात्रा में होते है | इसलिए आप नाश्ते में गेंहू के दलियें का सेवन कर सकते है | उत्तर भारत में गेंहू के दलियें का प्रयोग नाश्ते के रूप में बहुत होता है |

फल व जूस का सेवन : –

नाश्ते के रूप में फलों का सेवन उपयुक्त माना गया है | इसके अतिरिक्त आप जूस या शेक आदि का सेवन भी कर सकते है |

बादाम का सेवन करें : –

सुबह-सुबह खाली पेट आप रात के पानी में भिगोये हुए 8 से 10 बादाम का सेवन करें, इससे आपको प्रचुर मात्रा में प्रोटीन- फाइबर प्राप्त होता है | इससे आपका मष्तिष्क भी मजबूत बनता है(Healthy Breakfast in Hindi) |

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *