कब्ज ठीक करने के best घरेलु उपाय

By | October 7, 2018

कब्ज देखने में एक बहुत ही सामान्य सी बीमारी है | लेकिन यह हर उम्र के लोगों को अपना शिकार बना लेती है | पाचन तंत्र से सम्बंधित यह बीमारी हर दुसरे व्यक्ति में देखने को मिल जाएगी | सामान्य रूप में मल त्याग करने में कठिनाई अनुभव करना ही कब्ज है | ठीक समय पर शौच न जाना | शौच जाने में कठिनाई अनुभव करना | बहुत ही सक्त लेट्रिंग जाना | शौचालय में बहुत समय बिताना, तो समझ जाये कि आप कब्ज से परेशान है | कब्ज का ठीक समय पर उपचार न करने से यह और भी बहुत बीमारियों को जन्म दे सकता है जैसे : बवासीर, पाचन विकार, एसिडिटी, पेट फूलना, शरीर में विटामिन्स की कमी आना, चक्कर आना, आलस्य महसूस करना, थकान का अनुभव, मुख में दुर्गन्ध, मुह में छाले और आँतों में इन्फेक्शन आदि (Kabj Theek Karne ke Gharelu Upay)|

kabj theek karne ka tareeka

सभी बिमारियों की जड़ कब्ज को ही माना गया है | आयुर्वेद के अनुसार सभी बिमारियों की शुरुआत पाचन विकार से ही होती है और कब्ज एक बहुत बड़ा पाचन विकार है | इसलिए अपने स्वास्थ्य के प्रति जागरूक बने और आज से कब्ज को दूर करने के उपाय अपनाकर अपने शरीर को स्वास्थ्य बनाये | इससे पहले जान लेते है आखिर व्यक्ति को कब्ज की बीमारी क्यों होती है |

Kabj Theek Karne ke Gharelu Upay

कब्ज होने के कारण : – 

  • ठीक समय पर भोजन न करना कब्ज होने का बहुत बड़ा कारण बन सकता है | अनियमित भोजनशैली आजकल के समय अधिकतर लोगों की आदत बन चुकी है |
  • भोजन में फाइबर की मात्रा का प्रयोग न करने से भी आप कब्ज से पीड़ित हो सकते है | मैदा से बनी चीजों का सेवन न करें और अधिक से अधिक भोजन में फाइबर(रेशे) वाले भोजन खाए |
  • अक्सर ये देखा गया है कि जो लोग पानी का सेवन बहुत कम करते है उन्हें कब्ज जैसे बीमारी जीवन भर परेशान करती है |
  • जिन लोगों की जॉब शिफ्टों में होती है उन्हें भी कब्ज जैसी बीमारी अक्सर होती रहती है | क्योंकि ठीक समय पर नींद ने लेना और अनियमित तरीके से शौच जाना कब्ज को जन्म देता है |
  • जिन लोगों को बवासीर की बीमारी होती है उन्हें मल त्याग करने में परेशानी का अनुभव होता है | इसलिए अक्सर वे कब्ज से पीड़ित रहते है | इसके साथ ही पेट की मासपेशियाँ कमजोर होने पर भी कब्ज होने का खतरा बढ़ जाता है |
  • अगर आप तनाव में अधिक रहते है तो यह भी एक करना हो सकता है कब्ज होने का |
  • नींद कम लेने से भी कब्ज होने का खतरा बन सकता है |
  • जो लोग अक्सर दवाओं का सेवन करते है उन्हें भी उन दवाओं के साइड effect के रूप में कब्ज हो सकती है |

Kabj Theek Karne ke Gharelu Upay :

कब्ज दूर करने के 10 घरेलु उपाय : –

  1. कब्ज से पीड़ित व्यक्ति को पानी का सेवन अधिक से अधिक करना चाहिए | पानी के अधिक सेवन से आँतों में मल जमा नहीं होता और कब्ज से राहत मिलती है |
  2. खाना खाने के पश्चात् पपीते का सेवन कब्ज जैसी समस्याओं से छुटकारा प्रदान करता है |
  3. सुबह खाली पेट व रात्रि को खाना खाने के बाद शुद्ध शहद का सेवन करना भी कब्ज से राहत देता है |
  4. कब्ज से पीड़ित व्यक्ति को सुबह उठते ही अधिक से अधिक ताजा पानी का सेवन करना चाहिए व थोडा सैर के लिए घूमने जाना चाहिए
  5. अंजीर का प्रयोग पुरानी से पुरानी कब्ज में भी राहत प्रदान करता है | इसलिए यदि आप पुराने समय से कब्ज से पीड़ित है तो अंजीर का सेवन करना शुरू करें |
  6. एक गिलास हल्के गरम पानी में के निम्बू निचोड़कर इसे रात्रि को सोते समय प्रयोग करें | इसके प्रयोग से पुरानी से पुरानी कब्ज भी धीरे-धीरे ठीक होने लगती है |
  7. फाइबर को आँतों के लिए सबसे अच्छा माना गया है | जो व्यक्ति खाने में फाइबर की मात्रा अधिक लेते है उन्हें जीवन में कभी कब्ज की शिकायत नहीं होती | आइये जानते है फाइबर हमें किन-किन चीजों से प्राप्त होता है : हरी पत्तेदार सब्जियां, दालें, सेव के छिलके, नाशपाती के छिलके, मक्का , बिना छलनी के प्रयोग किया गया गेहूं का आटा, मूली , पत्ता गोभी , मटर , बादाम और किसमिस इन सभी में फाइबर अधिक मात्रा में होता है(Kabj Theek Karne ke Gharelu Upay) |
  8. सुबह-सुबह खाली पेट घूमने जाये व हल्का व्यायाम और कपालभाती योगासन करें | समय में खाने का सेवन करें, कब्ज को जड़ से खत्म करने का यह सबसे अच्छा विकल्प है |
  9. रात्रि को सोने से कम से कम 2 घंटे पहले खाना खाएं | खाना खाने के तुरंत बाद बिस्तर में न बैठे, थोडा दूर पैदल अवश्य चले |
  10. कब्ज की समस्या थोड़ी गंभीर होने पर घर पर त्रिफला चूर्ण अवश्य रखे | रात्रि को सोते समय आधा चम्मच गुनगुने पानी से कभी-कभी सेवन कर सकते है |

Kabj Theek Karne ke Gharelu Upay

कब्ज को दूर करने के कुछ कारगर नुश्खे : –

कब्ज दूर करने के उपरोक्त सभी घरेलु उपाय पूर्णतया सुरक्षित है व नियमित रूप से आप इनका प्रयोग कर सकते है किन्तु कभी-कभी कब्ज की समस्या गंभीर रूप ले लेती है ऐसे में उपरोक्त उपाय भी पूर्ण प्रभाव नहीं दिखा पाते | तो आइये जानते है कब्ज दूर करने के कुछ ऐसे ही जबरदस्त उपाय :-

  • कब्ज की समस्या गंभीर होने पर एक गिलास गरम दूध में एक चम्मच अरंडी का तेल मिलाकर सेवन करें | एक दिन छोड़कर फिर से इस प्रयोग को करें | इस प्रकार एक सप्ताह में 3 बार इस प्रयोग को करें | ऐसा करने से आंतो में चिपका मल पूर्ण रूप से साफ़ हो जाता है व आँतों की क्रिया पुनः ठीक से कार्य करने लगती है |
  • आवंला और एलुवेरा जूस सुबह और शाम दोनों समय खाली पेट सेवन करें | इससे कब्ज, गैस और एसिडिटी सभी में राहत मिलती है | इनका सेवन आप नियमित रूप से भी कर सकते है यह पूर्णतया सुरक्षित है |
  • एक गिलास गरम दूध में एक चम्मच देसी घी मिलाकर पीने से भी कब्ज से छुटकारा मिलता है |
  • एक चम्मच ईसबगोल की भूसी को दिन में खाली पेट एक गिलास पानी के में मिलाकर सेवन करें(Kabj Theek Karne ke Gharelu Upay) |

अगर आप नियमित रूप से कब्ज से छुटकारा दिलाने वाला चूर्ण बनाना चाहते है तो इस नीचे दी गयी विधि अनुसार आप इस चूर्ण को घर पर ही बना सकते है | इस चूर्ण का प्रयोग आप रोजाना रात को सोते समय कर सकते है : –

20 ग्राम हींग , 100 ग्राम जीरा व स्वाद अनुसार काला नमक, ये सभी लेकर पहले जीरे को लाहे के किसी जार में अच्छे से कूट कर चूर्ण बना ले अब इसमें हींग और काला नमक डाले और फिर से अच्छे से कूट ले(Kabj Theek Karne ke Gharelu Upay) | अब इस चूर्ण को आप किसी कांच के बर्तन में रख ले और खाना खाने के बाद एक चम्मच गुनगुने पानी के साथ सेवन करें | गैस , कब्ज और एसिडिटी में यह चूर्ण बहुत ही प्रभावी सिद्ध हुआ है |

कब्ज को दूर करने के लिए आप बाजार में उपलब्ध आयुर्वेदिक उत्पादों का भी प्रयोग कर सकते है किन्तु इनमें बहुत से उत्पाद ऐसे है जिनकों लेने से आपको पेट में मरोड़ के साथ दस्त के रूप में लेट्रिंग आता है | या फिर बार-बार आपको शौच के लिए जाना पड़ सकता है | थोड़ी सी भी अधिक मात्रा का सेवन करने पर ये आपको दस्त भी लगा सकते है | किन्तु फिर भी जब कब्ज घरेलु नुश्खों से ठीक न हो तो आप इन आयुर्वेदिक औषधियों का सेवन कर सकते है | तो आइये जानते है बाजार में कब्ज दूर करने की कुछ आयुर्वेदिक औषधियों के विषय में जानकारी(Kabj Theek Karne ke Gharelu Upay) |

कब्ज दूर करने की आयुर्वेदिक औषधियां : –

Baidyanath Kabjhar – बैद्यनाथ कब्जहर चूर्ण 

Zandu Nityam Tablets  – झंडू नित्यम टेबलेट

Kayam Churna  – कायम चूर्ण 

Pet Saffa  – पेट सफा चूर्ण

उपरोक्त सभी आयुर्वेदिक औषधियां प्रयोग में पूर्ण रूप से सुरक्षित है | कब्ज की समस्या अधिक होने पर आप कुछ दिनों के लिए इनका प्रयोग कर सकते है | ध्यान दे : लम्बे समय तक इन औषधियों के सेवन से पहले आप किसी चिकित्सक से सलाह अवश्य ले ले |

कब्ज वैसे तो एक साधारण सी बीमारी है किन्तु इसे अनदेखा बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए | जैसे आपको महसूस होता है कि आप कब्ज से पीड़ित होने लगे है तो आप छोटे-छोटे घरेलु नुश्खों को अपनाकर या फिर अपने भोजनशैली में परिवर्तन से इस बीमारी को ठीक कर सकते है | याद रखिये यदि आपका पाचन तंत्र स्वस्थ है तो आप एक लम्बा जीवन जीने वाले व्यक्ति होंगे(Kabj Theek Karne ke Gharelu Upay) | असाध्य रोग उन्ही लोगों को अपना शिकार बनाते है जो लम्बे समय तक पाचन तंत्र के विकार से पीड़ित रहते है |

 

 

 

 

 

 

One thought on “कब्ज ठीक करने के best घरेलु उपाय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *